Gujarat Gir century : दो शेर, 3 तेंदुओं के लगा कोरोना का दूसरा टीका

Patrika | 1 week ago | 23-06-2022 | 12:08 pm

Gujarat Gir century : दो शेर, 3 तेंदुओं के लगा कोरोना का दूसरा टीका

राजकोट. एशियाई शेरों की एकमात्र शरणस्थली जूनागढ़ जिले में स्थित सक्करबाग अभ्यारण्य (जू) में दो शेर, 3 तेंदुओं के कोरोना का दूसरा टीका लगाया गया है।जू में शेरों को कोरोना महामारी से बचाने के लिए टीककारण का प्रयोग शुरू किया गया है। इसके पहले चरण में 5 वन्य प्राणियों को कोरोना के दोनों टीके लगाए गए। इनमें तीन तेंदुए और दो शेरों को पहला टीका लगाया गया था। अब इनके दूसरा टीका भी लगा दिया गया है। दूसरा टीका लगाने के बाद वन्य प्राणियों के एंटीबॉडी पर दो महीने तक सतत निगरानी रखी जाएगी। पांचों प्राणियों में एंटीबॉडी विकसित हुई है। इनमें किसी किस्म का बुखार या अन्य दुष्प्रभाव नहीं देखा गया है।पहले टीके के 28 दिन बाद लगाया दूसरा : वन विभाग के अनुसार पहले टीके के 28 दिन के बाद जून के दूसरे सप्ताह में दूसरा टीका लगाया गया है। इसके बाद से इन सभी वन्य प्राणियों की लगातार निगरानी की जा रही है। सभी वन्य प्राणी स्वस्थ बताए गए हैं। गौरतलब है कि चेन्नई के जू में जून 2021 में कोरोना के कारण दो शेरों की मौत हो गई थी। उसके बाद वन्य प्राणियों को टीका लगाने का निर्णय किया गया था और वन्य प्राणियों के लिए विशेष प्रकार के टीके बनाए गए।देश के छह जू में टीके लगाने का हुआ था निर्णयदेश के छह जू में वन्य प्राणियों के क्लीनिकल ट्रायल के तहत कोरोना टीका लगाने का निर्णय किया गया था। जूनागढ़ के अलावा दिल्ली, बेंगलूरु, नागपुर, भोपाल और जयपुर के जू का चयन किया गया था। वन विभाग के अधिकारी ने बताया कि जंगल में विचरण करने वाले अन्य वन्य प्राणियों के लिए सरकार ने टीकाकरण का कोई निर्णय नहीं किया है।

Google Follow Image