Gujarat: भावुक हुए कई विधायक, गिला-शिकवा माफ, पता नहीं अगले सत्र में कौन मिले!

Patrika | 4 days ago | 22-09-2022 | 10:37 am

Gujarat: भावुक हुए कई विधायक, गिला-शिकवा माफ, पता नहीं अगले सत्र में कौन मिले!

गुजरात विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे व अंतिम दिन गुरुवार को सदन में कई विधायक भावुक नजर आए। विधायकों ने एक दूसरे से गिला-शिकवा भूलने की बात कहते हुए माफी भी मांगी। इन विधायकों का कहना था कि पता नहीं, अगले विधानसभा सत्र में फिर मिले या नहीं।गुजरात विधानसभा चुनाव इस वर्ष के अंत में होने हैं। चुनाव के पहले यह विधानसभा का अंतिम सत्र था। दो दिवसीय सत्र के अंतिम दिन गुरुवार को विधानसभा में विपक्षी कांग्रेस के उप नेता शैलेष परमार भावुक दिखे। परमार को सदन में वर्ष 2022 के श्रेष्ठ विधायक के तौर पर नवाजा गया। वे अपने स्वर्गीय विधायक पिता मनूभाई परमार को याद करते हुए भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि उनके पिता को भी कांग्रेस ने सदन में उप नेता बनाया था और वे भी आज इस पद पर हैं। कांग्रेस के विधायक ग्यासुद्दीन शेख ने भी चर्चा के अंत में सदन के सभी विधायकों से गिला-शिकवा माफ करने की बात कही। उन्होंने कहा कि यह 14वीं विधानसभा सत्र का अंतिम दिन है। अगले सत्र में पता नहीं कौन सदस्य सदन में आए या नहीं आए। 2021 के श्रेष्ठ विधायक का पुरस्कार जीतने पर भाजपा के वरिष्ठ विधायक जीतू सुखडिय़ा ने सभी का आभार जताते हुए सभी साथी विधायकों से गिला-शिकवा माफ करने की बात कही।पोरबंदर से भाजपा विधायक बाबू बोखीरिया ने भी आशा व्यक्त की कि सदन के वर्तमान सभी सदस्य अगले सत्र में भी वापस आएं।कांग्रेस की महिला विधायक गेनीबेन ठाकोर ने मंत्रियों व वरिष्ठ विधायकों का आभार मानत हुए कहा कि इन पांच वर्षों में सभी का अच्छा सहयोग मिला। कुछ विधायकों ने सदन में एक दूसरे से माफी मांगते हुए कहा कि यदि इन पांच वर्षों में उनसे कोई भी भूल या गलती हो गई हो तो उसे माफ करें। राज्य सरकार के प्रवक्ता मंत्री जीतू वाघाणी ने मीडिया के समक्ष सभी का आभार जताया।---------------

Google Follow Image