Gujarat: किसान बनकर जमीन हड़पने वाले बर्दाश्त नहीं, लैंड जिहाद की जांच के लिए एसआईटी बनेगी

Patrika | 1 week ago | 06-08-2022 | 09:33 am

Gujarat: किसान बनकर जमीन हड़पने वाले बर्दाश्त नहीं, लैंड जिहाद की जांच के लिए एसआईटी बनेगी

Source for Hundreads of Crores of rupees for land jihad will be probed by SIT, says Gujarat Revenue Minister Rajendra Trivedi राजस्व मंत्री राजेन्द्र त्रिवेदी ने कहा कि राज्य के गरीब परिवारों की महंगी जमीन फर्जी तरीके से हड़पकर किसान बनने वाले चेत जाएं। ऐसे तत्वों को राज्य सरकार बर्दाश्त नहीं करेगी। फर्जी दस्तावेज बनाकर जमीन हड़पने वालों से राज्य सरकार जमीन वापस लेगी। खेड़ा जिले की मातर तहसील के तहसीलदार कार्यालय का आकस्मिक दौरा कर फर्जी दस्तावेज से किसान बनने वालों का पर्दाफाश करने के बाद राजस्व मंत्री ने कहा कि कुछ लोगों की ओर से फर्जी तरीके से जमीनों के दस्तावेज तैयार कर घोटाला किया गया है। फर्जी किसान बनने के लिए फंडिंग करने का मामला प्रशासन के समक्ष उजागर हुआ है। ऐसे तत्वों की ओर से मंदिर के अधीनस्थ की जमीन भी अपने नाम की गई है। ऐसे तत्वों को राज्य सरकार नहीं बर्दाश्त करेगी। उन्होंने कहा कि मातर तहसील के क्षेत्रों में लैंड जिहाद से जुड़े मामलों के लिए गृह विभाग से विशेष जांच दल (एसआईटी) गठित करने की बात कहेगी। जांच के बाद 628 मामलों में नोटिस मंत्री ने कहा कि राज्य में वैसे लोग सावधान रहें जो फर्जी रूप से किसान बने हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ राज्य सरकार कानूनी तरीके से कड़ी से कड़ी कार्रवाई करेगी। जो भी फर्जी किसान बनकर राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ लेंगे ऐसे लोगों को राज्य सरकार कड़ी सजा करेगी। राजस्व मंत्री ने मातर तहसीलदार कार्यालय में 1730 नाम परिवर्तन की जांच की, जिसमें 628 नाम संदिग्ध सामने आए। ऐसे 628 मामलों में प्राथमिक जांच के बाद नोटिस दी गई है। पिछले पांच वर्षों के गणोतधारा की 84 (सी) मामलों की जांच की गई। इनमें 260 मामलों में कार्रवाई प्रारंभ की गई है। यह जमीन करीब 1900 बीघा है, जिसकी अनुमानित कीमत 200 करोड़ रुपए है। मंदिरों को भी नहीं छोड़ते लोग राजस्व मंत्री ने कहा कि भगवान के मंदिरों को भी लोग नहीं छोड़ते। वणसर गांव के महादेव मंदिर के नाम की जमीन भी प्रबंधकों ने जमीन बिक्री से प्राणनाथ महादेव का नाम निकलवा दिया है। ऐसे तरीके से जमीन खरीदी गई है। भगवान महादेव के नाम जिन व्यक्तियों ने जमीन ली है उन्हें नहीं छोड़ा जाएगा। धार्मिक स्थलों की जमीन हड़पने वालों पर होगी कार्रवाई मंत्री त्रिवेदी ने कहा कि गुजरात सरकार किसी भी धार्मिक स्थल, खेती या जमीन में प्रबंधक का नाम दाखिल कर एवं उस जमीन हड़पने की कोशिश करनेवाले व्यक्तियों को नहीं बर्दाश्त करेगी। मातर में एक धर्म के खातेदार की जमीन में अन्य धर्म के व्यक्ति का नाम दाखिल किया गया है। ऐसे व्यक्ति पर भी मामला दायर किया जाएगा। यह जमीन सरकार अपने अधीन लेने की कार्रवाई करेगी। मंत्री ने कहा कि गुजरात और देश-विश्व में अहमदाबाद आर्थिक और महत्वपूर्ण शहर बन रहा है। ऐसे में अहमदाबाद के विकास को रोकने के लिए शहर के आसपास के महत्वपूर्ण शहरों और तहसील के ग्रामीण क्षेत्रों में फर्जी किसान बनकर बड़े पैमाने पर कृषि की जमीन खरीद रहे हैं। यह भी जांच का विषय है कि बड़े पैमाने पर जमीन खरीदने के लिए इतने रुपए कहां से आए हैं, लेकिन ऐसे देश-विरोधी तत्वों के मंसूबे सफल नहीं होंगे।

Google Follow Image